Vaagmi
Advertisement
राजनीति
chaddi mubarak

शंकराचार्य मंदिर में ले जाया गया ‘छड़ी मुबारक’ को

 भगवान शिव की छड़ी ‘छड़ी मुबारक’ को पूजा-अर्चना के लिए आज ऐतिहासिक शंकराचार्य मंदिर ले जाया गया। वार्षिक अमरनाथ यात्रा से जुड़ी यह पुरानी परम्परा रही है।

हरियाली अमावस्या के अवसर पर महंत दीपेन्द्र गिरि और साधुओं तथा श्रद्धालुओं के साथ पवित्र गदा नगर के बुडशाह चौक इलाके में दशनामी अखाड़े से बाहर लायी गयी और इसकी पूजा-अर्चना की गयी।

दो घंटे तक चली पूजा अर्चना के दौरान शंखों के नाद से पूरा आकाश गुंजायमान रहा जिसमें काफी संख्या में साधुओं और श्रद्धालुओं ने शिरकत की। यह जानकारी गिरि द्वारा स्थापित ‘ट्रू ट्रस्ट’ के एक प्रवक्ता ने दी।

उन्होंने कहा कि जम्मू-कश्मीर की शांति और समृद्धि के लिए सामूहिक पूजा भी की गई।

प्रवक्ता ने बताया कि छड़ी मुबारक को श्रीनगर के हरि पर्वत पर ‘सारिका भवन’ ले जाया जाएगा जहां कल देवी की पूजा होगी।

प्रवक्ता ने कहा, ‘‘नागपंचमी के अवसर पर 15 अगस्त को श्रीनगर के दशनामी अखाड़े में छड़ी पूजन के बाद छड़ी को दर्शन के लिए अमरनाथ जी की गुफा में ले जाया जाएगा।’’ 

छड़ी मुबारक को 26 अगस्त को रक्षा बंधन और सावन पूर्णिमा के अवसर पर गुफा में दिन भर पूजा के लिए रखा जाएगा।