Vaagmi
Advertisement
राजनीति
rahul ka steefa

कांग्रेस में अध्यक्ष पद को लेकर सस्पेंस

नई दिल्ली। राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया है। बुधवार को राहुल ने 6 पेज अपना इस्तीफा सार्वजनिक करते हुए साफ कर दिया कि पार्टी जल्द से जल्द नया अध्यक्ष चुने। इस्तीफे की चिट्ठी में उन्होंने खुद को लोकसभा चुनाव 2019 की हार के लिए जिम्मेदार बताया है। राहुल के इस कदम के बाद भी कांग्रेस में अध्यक्ष पद को लेकर सस्पेंस बना हुआ है। कहीं चर्चा है कि पार्टी के सबसे सीनियर राष्ट्रीय महासचिव मोतीलाल वोरा को अंतरिम अध्यक्ष बनाया जा सकता है। वहीं कुछ नेता कह रहे हैं कि राहुल अभी अध्यक्ष बने रहेंगे। पढ़िए अब तक पूरा घटनाक्रम -
समाचार एजेंसी एएनआई ने सूत्रों से हवाले से कहा है कि वोरा कांग्रेस की अगली वर्किंग कमेटी  होने तक अध्यक्ष बने रहेंगे। हालांकि एएनआई के मुताबिक ही एक कांग्रेस नेता ने वोरा को अंतरिम अध्यक्ष बनाए जाने का खंडन किया है।उनका कहना है कि अगली उहउ तक राहुल अध्यक्ष बने रहेंगे। इस बीच, अध्यक्ष पद के लिए राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मल्लिकार्जुन खड़गे और सुशील कुमार शिंदे के नाम भी चर्चा में थे।

वहीं पिछले दो-तीन दिन से सुशील कुमार शिंदे का नाम भी चल रहा है। शिंदे गांधी परिवार के करीबी और विश्वसनीय हैं। इससे पहले बुधवार को राहुल ने कहा, 'पार्टी बिना किसी देरी के जल्द से जल्द नए अध्यक्ष का चुनाव करे। मैं इस पूरी प्रक्रिया का हिस्सा नहीं हूं। मैंने पहले ही अपना इस्तीफा सौंप दिया है और अब मैं पार्टी का अध्यक्ष नहीं हूं। कांग्रेस वर्किंग कमेटी जल्द बैठक कर नया अध्यक्ष चुने।'

कांग्रेस अध्यक्ष के आवास 12 तुगलक लेन पर मुख्यमंत्रियों की करीब दो घंटे हुई बैठक के दौरान राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने राहुल से अध्यक्ष पद पर बने रहने के लिए अपने-अपने इस्तीफे की पेशकश दोहराई। इस पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह फैसले पर अडिग हैं और कई बार साफ कर चुके हैं।