Vaagmi
Advertisement
राष्ट्रीय
terrerist attack in punch

पुंछ में घात लगाए आतंकियों ने किया हमला, पांच जवान शहीद हुए

जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले में सोमवार को आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान ५ जवान शहीद हो गए. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, राजौरी जिले के पीर-पंजाल इलाके में आतंकियों के खिलाफ चल रही कार्रवाई में ४ जवान और एक जेसीओ शहीद हो गए.

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ भारतीय सेना के जवान लगातार ऑपरेशन चला रहे हैं और आतंकियों को खत्म करने का अभियान चलाया जा रहा है. बताया जा रहा है कि कुछ आतंकियों के छिपे होने की खबर के बाद भारतीय सेना ने कार्रवाई शुरू की थी, जिसके बाद आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी और फिर मुठभेड़ शुरू हुई. सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच एनकाउंटर अभी भी जारी है.
अधिकारियों ने बताया कि भारी हथियारों के साथ आतंकवादियों के नियंत्रण रेखा पार कर जंगल में छुपे होने की खबर मिली थी. मौके पर अतिरिक्त बल को भेजा गया है, ताकि आतंकवादियों के निकलने के सभी रास्ते बंद किए जा सकें. रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद तड़के एक अभियान शुरू किया गया था.
जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच देर रात शुरू हुई मुठभेड़ सेना के जवानों ने १ आतंकी को मार गिराया. कश्मीर जोन की पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ में पुलिस का एक जवान भी घायल है, जिसका अस्पताल में इलाज चल रहा है. एक शीर्ष पुलिस अधिकारी ने बताया कि एक विशेष सूचना पर पुलिस अनंतनाग के खगुंड वेरीनाग इलाके में एक ओजीडब्ल्यू को लेने गई थी. जैसे ही पुलिस दल संदिग्ध स्थान की ओर पहुंचा, छिपे हुए उग्रवादी ने पुलिस दल पर गोली चला दी, जिससे मुठभेड़ शुरू हो गई. पुलिस अधिकारी ने आगे बताया कि फायरिंग के दौरान एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया, जबकि एक सिपाही को भी गोली लगी है. उसे इलाज के लिए पास के अस्पताल में ले जाया गया. इस दौरान मारे गए उग्रवादी के पास से एक पिस्टल और एक ग्रेनेड बरामद किया गया है.

इसके अलावा जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा के हाजिन इलाके के गुंडजहांगीर में भी सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है और सेना के जवानों ने एक आतंकी को मार गिराया है. 
जम्मू-कश्मीर में आतंकियों के खिलाफ राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने बड़ी कार्रवाई की है और अब तक ५ आतंकियों को गिरफ्तार किया है. एनआईए ने आईएसआईएस के ३ और टीआरएफ  के २ आतंकी गिरफ्तार हुए हैं. एनआईए ने कश्मीर में ८ जगहों पर छापे मारे थे और आईएसएस आतंकियों से मिले आपत्तिजनक दस्तावेज मिले हैं.
जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में आतंकवाद निरोधी अभियान में सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच सोमवार को हुई मुठभेड़ में एक जेसीओ सहित सेना के पांच जवान शहीद हो गए। इस मामले में रक्षा विभाग के एक प्रवक्ता ने जानकारी दी कि, आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद सुरनकोट में डीकेजी के पास एक गांव में तड़के एक अभियान शुरू किया गया।

छिपे हुए आतंकवादियों के सुरक्षा बल पर गोलीबारी करने से एक जेसीओ और चार अन्य जवान घायल हो गए। सभी को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया, लेकिन रास्ते में उन्होंने दम तोड़ दिया। अधिकारियों ने बताया कि भारी हथियारों के साथ आतंकवादियों के नियंत्रण रेखा पार कर चरमेर के जंगल में छुपे होने की खबर मिली थी। मौके पर अतिरिक्त बल को भेजा गया है, ताकि आतंकवादियों के निकलने के सभी रास्ते बंद किए जा सकें। हमलावर आतंकियों के ४ से ५ तक होने की आशंका है।