Vaagmi
Advertisement
राष्ट्रीय
uttrakhand me bjp ko jhatka

उत्तराखंड में बीजेपी के परिवहन मंत्री यशपाल आर्य ने थामा कांग्रेस का हाथ

उत्तराखंड के परिवहन मंत्री यशपाल आर्य ने बीजेपी से इस्तीफ़ा दे दिया है. अपने बेटे और विधायक संजीव आर्य के साथ वे कांग्रेस पार्टी में शामिल हो गए हैं.

दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं की उपस्थिति में यशपाल आर्य और उनके पुत्र पार्टी में शामिल हुए.
इस मौक़े पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हरीश रावत, केसी वेणुगोपाल और रणदीप सुरजेवाला मौजूद रहे.इससे पहले उन्होंने कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और वायनाड से सांसद राहुल गांधी से उनके आवास पर मुलाकात भी की थी.

यशपाल मुक्तेश्वर विधानसभा क्षेत्र से प्रतिनिधि हैं. उनके बेटे संजीव आर्य उत्तराखंड में नैनीताल विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं.

राजनीतिक जानकारों का मानना है कि आर्य का कांग्रेस में घर वापसी का फैसला हाल में पंजाब में दलित मुख्यमंत्री बनाए जाने और कांग्रेस महासचिव हरीश रावत के उत्तराखंड में भी इसकी वकालत करने से भी प्रेरित हो सकता है । आर्य ने ४० साल तक कांग्रेस में रहने के बाद २०१७ में ऐन विधानसभा चुनाव से पहले पुत्र संजीव के साथ भाजपा में शामिल होकर सबको चौंका दिया था। तब कांग्रेस ने हालांकि कहा ​था कि आर्य अपने अलावा अपने पुत्र संजीव के लिये भी विधानसभा टिकट मांग रहे थे और अपने कर्मठ कार्यकर्ता की अनदेखी कर उन्हें यह टिकट दे पाना संभव नहीं था।

छह बार के विधायक आर्य ने कैबिनेट मंत्री रहने के अलावा सात साल उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का पद भी संभाला है। वह प्रदेश की पहली निर्वाचित विधानसभा के अध्यक्ष भी रहे हैं।